RBSE Solutions Class 4 Hindi Chapter 2 Buddhimaan Khargosh | बुद्धिमान खरगोश

Our today topic in free Rajasthan Board Class 4 RBSE Solutions Class 4 Hindi Chapter 2 Buddhimaan Khargosh बुद्धिमान खरगोश. Here We learn what is in this chapter बुद्धिमान खरगोश यह एक बहुत ही अच्छी कहानी है जिसमे एक खरगोश ने अपनी चतुराई और सूझ-बुझ से सिंह भासुरक के आंतक को समाप्त किया ये उसने कैसे किया ये जानने के लिए आपको ये कहानी जरुर पढ़नी चाहिए। यहाँ बुद्धिमान खरगोश कहानी के प्रश्न-उत्तर दिए जा रहे है। how to solve questions एनसीइआरटी कक्षा 4 हिंदी पाठ 2 बुद्धिमान खरगोश के प्रश्न उत्तर सम्मिलित है।
RBSE Solutions for Class 4 Hindi Chapter 2 बुद्धिमान खरगोश Buddhimaan Khargosh are part of RBSE Solutions for Class 4 Hindi. Here we have given NCERT Solutions for Class 4 Hindi paath 2 Buddhimaan Khargosh.
Here we solve ncert class 4 Hindi chapter 2 Buddhimaan Khargosh हिंदी concepts all questions with easy method with expert solutions. It help students in their study, home work and preparing for exam. Soon we provide RBSE class 4 Hindi chapter 1 Buddhimaan Khargosh question and answers. RBSE Solutions Class 4 Hindi chapter 2 Buddhimaan Khargosh बुद्धिमान खरगोश in free PDF here.

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 4 Hindi Chapter 2

पाठ – 2
बुद्धिमान खरगोश
हिंदी

NCERT Solutions Class 4 Hindi Chapter 2 Buddhimaan Khargosh | बुद्धिमान खरगोश अभ्यास प्रश्न

सोचें और बताएँ

1. वन में रहने वाले सिंह का नाम क्या था?
उत्तर – वन में रहने वाले सिंह का नाम भासुरक था।

2. मृत्यु के भय से किसके पैर नहीं उठ रहे थे?
उत्तर – मृत्यु के भय से खरगोश के पैर नहीं उठ रहे थे।

3. खरगोश ने अपनी बुद्धिमत्ता से किसको मारा था?
उत्तर – खरगोश ने अपनी बुद्धिमत्ता से भासुरक नमक सिंह को मारा था।

लिखें

1. सही उत्तर का क्रमाक्षर कोष्ठक में लिखें :
(क) जंगल के सभी जीव मिलकर किसके पास पहुँचे?

(अ) सिंह (ब) खरगोश
(स) हिरण (द) भालू

उत्तर – (अ) सिंह

(ख) भासुरक ने कुएँ में क्या देखा –

(अ) खरगोश (ब) दूसरा सिंह
(स) अपनी परछाई (द) पानी

उत्तर – (स) अपनी परछाई

2. खरगोश ने प्राणों की रक्षा के लिए क्या किया?
उत्तर – खरगोश ने प्राणों की रक्षा के लिए एक उपाय सोचा कि क्यों न भासुरक को उसके वन में दूसरे सिंह के नाम से उसकी परछाई दिखाकर इस कुएँ में गिरा दिया जाए।

3. खरगोश को देरी से आता देख सिंह ने क्या किया?
उत्तर – खरगोश को देरी से आता देख सिंह सोचने लगा कि कुछ ही देर में कोई पशु न आया तो वह अपने सिखर को चल पड़ेगा और पशुओं के खून से सरे जंगल को सींच देगा।

4. खरगोश ने देरी से आने का क्या कारण बताया?
उत्तर – खरगोश ने देरी से आने पर यह कहा कि उन्हें रास्ते में दूसरा सिंह मिल गया था जिसने उन्हें रोक लिया और उसके साथ के 4 खरगोश को मार कर खा गया। मैं जैसे तैसे जान बचाकर आया हूँ।

5. खरगोश ने सिंह को कैसे मारा?
उत्तर – खरगोश ने सिंह को कि इस जंगल में दूसरा सिंह भी रहता है और वही अपने आप को जंगल का राजा मानता है। यह सुनकर भासुरक सिंह उसके साथ चल दिया और उसे कहा कि वह इस कुएँ में रहता है। सिंह को पानी में अपनी परछाई दिखी और वह उसे मारने के लिए पानी में कूद गया और मारा गया।

किसने, किससे, कब कहा?

6. “आज तुझे मरकर कल से मैं जंगल के सारे पशुओं की जान ले लूँगा।”
उत्तर – यह सिंह भासुरक ने खरगोश से कहा।

7. “ठीक है, यदि स्वामी का यही निर्णय है तो आप मेरे साथ चलिए।”
उत्तर – यह कथन खरगोश ने सिंह भासुरक से कहा।

भाषा की बात

  • पाठ में ‘प्रतिदिन’ शब्द आया है। यहाँ ‘दिन’ शब्द में प्रति जुड़ने से प्रतिदिन बना है। प्रति शब्द जोड़कर ऐसे ही पांच शब्द बनाएँ।

उत्तर – 

उपसर्ग + मूल शब्द  नया शब्द
प्रति + एक प्रत्येक
प्रति  + उत्तर प्रत्युत्तर
प्रति  + दोष प्रतिदोष
प्रति + घात प्रतिघात
प्रति + हार प्रतिहार
  • पाठ में ऐसे वाक्यों को छाँटकर लिखिए, जिनमें क्रिया/सर्वनाम आया है, जैसे :-
क्र सं वाक्य  क्रिया शब्द सर्वनाम
1. वह प्रतिदिन अनेक वन्य जीवों को मारा करता था। मारा करता था वह
2. वह जंगल में इधर-उधर भटकता रहा। भटकता रहा। वह
3. यही उपाय सोचता-सोचता वह भासुरक सिंह के पास बहुत देर बाद पहुँचा। पहुँचा। वह
4. उसके भोजन की घड़ियाँ बीत रही थी। बीत रही थी। उसके
5. उसको प्रणाम करके बैठ गया। बैठ गया। उसको
6. उनके वंश का नाश कर डालूँगा। नाश कर डालूँगा उनके
7. वहाँ से लौटकर वह वन्य जीवों की सभा में गया। सभा में गया। वह

यह भी करें

  • आपने कई जानवरों को देखा होगा। आप जानवरों को सूची बनाइये तथा अपने से बड़ों से चर्चा कर पालतू और जंगली जानवर अलग-अलग छाँटकर लिखिए।

उत्तर – 

पालतू जानवर जंगली जानवर
कुत्ता सिंह
गाय चीता
बिल्ली बघेरा
भैस गेंडा
बकरी लोमड़ी
  • कहानी को मौखिक यद् कर अपने सहपाठियों को सुनाएँ।
    कहानी पर नाटक का मंचन करने के लिए मुखौटों की जरुरत होगी।
    जैसे – शेर का मुखौटा। और कौन-कौन से मुखौटों की जरुरत है?
    उनके नाम लिखकर चित्र बनाएँ।

उत्तर – शेर का मुखोटा, खरगोश का मुखौटा, बन्दर का मुखौटा, हाथी का मुखौटा, हिरण का मुखौटा, लोमड़ी का मुखौटा आदि।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!