NCERT Solutions for Class 10 English First Flight Chapter 1 A Letter to God – Hindi Translate

NCERT Solutions for class 10 English first flight chapter 1 A Letter to God भगवान को एक पत्र. Here We learn about a farmer who’s name Lencho. His crops destroy in rainfall then he write a letter to God. What happened next so read this whole story. It is very nice and interesting story. how to translate it English to Hindi NCERT solutions for class 10 English first flight NCERT class 10 English chapter 1 A letter to God are part of NCERT Solutions Translate English to Hindi for Class 10 English. Here we have given NCER Solutions for Class 10 Angrgi paath 1 A letter to God. We provide A Letter to God question and answer as soon as possible. chapter 1 English class 10
Here we solve NCERT solutions class 10 English first flight chapter 1 english class 10 book solution A Letter to God concepts all translate with easy method with expert solutions. It help students in their study, home work and preparing for exam. Soon we provide NCERT class 10 english chapter 1 solutions A letter to God Hindi Translate. NCERT solutions for class 10 english first flight A letter to God in free PDF here. You can download ncert english book class 10 from official NCERT website or Click HERE.

NCERT Solutions for class 10 English first flight flight
Chapter – 1
A Letter to God

NCERT solutions for class 10 English first flight chapter 1 a letter to god – Hindi translate
NCERT solutions for class 10 English first flight chapter 1 a letter to god – Questions Answer Click Here

Before You Read
They say …………………………………………………………… read it.
Translations – वे (लोग) कहते है की आस्था (विश्वास) पहाड़ों को भी हिला सकता है। लेकिन हमें अपना विश्वास किसमें रखना चाहिए। इसी प्रश्न के बारे में हम इस कहानी में पढ़ेगें।

लेंचो एक किसान है जब उसकी फसलें ख़राब हो जाती है तो, वो  एक सौ पेसो (साऊथ अमेरिका की मुद्रा) मांगने के लिए भगवान् को एक पत्र लिखता है। क्या लेंचो का पात्र भगवान तक पहुँचेगा ? क्या भगवान उसे धन भेजेगें। सोचो आपके उत्तर इन प्रश्नों के लिए क्या हो सकते है, और अनुमान लगाइये की कहानी कैसे चलती है, आपके इस कहानी को पढ़ने से पहले।

Avtivity
THE house ……………………………………………………………. north-east.
ये घर – पूरी घाटी में एक ही था – एक निचली पहाड़ी की सबसे ऊँची चोटी पर स्थित था। इस ऊंचाई से एक नदी और पके बिंदुदार के समान मकई के खेत को देखा जा सकता था, जिनमे फूल लगे थे जो कि संकेत कर रहे थे कि इस बार अच्छी फसल होगी। केवल एक चीज जिसकी पृथ्वी को जरुरत थी वो थी मूसलाधार बारिश या बौछार की। पूरी सुबह से लेंचो – जो अपने खेतों को बहुत अच्छी तरह से जानता था, उसने कुछ नहीं किया था लेकिन उत्तर-पूर्व में वो आसमान की ओर देख रहा था।

NCERT Solutions For Class 10 English First Flight Chapter 1 A Letter to God Questions-Answers

“Now we ……………………………………………………………. are fives.”
अब हमें कुछ ही देर में पानी मिलेगा – महिला। वह महिला जो रात के लिए भोजन बना रही थी उसने उत्तर दिया – हाँ, अगर भगवान ने चाहा तो। बड़े लड़के खेत में काम कर रहे थे, जबकि छोटे वाला घर के पास खेल रहा था जब तक कि उस महिला ने उन्हें रात के भोजन के लिए भुलाया। भोजन के दौरान जैसा की लेंचो ने भविष्यवाणी की थी, बारिश की बड़ी बुँदे गिरना प्रारम्भ हो गयी। बड़े-बड़े बादल उत्तर-पूर्व की ओर से आते दिखाई दे रहे है। पूरी हवा शुद्ध हो चुकी थी और अच्छी खुशबू आ रही थी। आदमी (लेंचो) बाहर चला गया किसी और कारण से नहीं बल्कि बारिश की बूंदों को अपने शरीर पर महसूस करने के लिए और जब वो बाहर से अंदर आता है तो उसने कहा, “ये केवल बारिश की बूंदें नहीं है बल्कि ये नए सिक्के है। बड़ी बुँदे दस सेंट और छोटी बूंदें पांच सेंट के बराबर थी।

ncert class 10 english chapter 1 hindi translate a letter to god.

With a ……………………………………………………………. with salt.
लेंचो पुरे संतुष्ट भाव से अपने खेतों को देखा जिनमें फूल लगे हुए थे बारिश से उसकी फसल दिखाई नहीं दे रही थी। लेकिन अचानक बहुत तेज हवा चलने लगती है और बारिश की बूंदों के साथ ओले गिरना शुरू हो जाते है। ये जरूर ही नए चाँदी के सिक्कों के बराबर होंगे। लड़के बारिश में बाहर आ गए और जमे हुए बर्फ के मोती को इक्कठा करने के लिए दौड़े।
यह वास्तव में बहुत बुरा हो रहा है, उस आदमी (लेंचो) ने कहा। मैं आशा करता हु ये ओले जल्दी से चले जाए। लेकिन ऐसा नहीं हुआ वे जल्दी से नहीं गए। कई घंटो तक ओले गिरते रहे घरो, बगीचों, पहाड़ों की ओर, मकई के खेतो पर, पूरी घाटी में। पूरा खेत सफ़ेद हो गया, जैसे की वो नमक से ढका हो।

‘‘It’s really ……………………………………………………………. this year.”
पेड़ों पर एक पत्ती भी नहीं बची थी। फसल पूरी तरह बर्बाद हो चुकी थी। फूल, पौधों से हट चुके थे। लेंचो की आत्मा पूरी तरह से दुखी हो गई। जैसे ही तूफ़ान रुकता है, वह अपने खेतों के एकदम बीचों-बीच खड़ा होता है ओर अपने बच्चों से कहता है, “टिड्डियों का आक्रमण भी इससे ज्यादा फसल छोड़ देता है। इस बर्फ़बारी ने कुछ भी नहीं छोड़ा।
इस साल हम फसल पैदा नहीं कर पायेगें। वो रात एक दुखभरी रात थी। हमारी सारी मेहनत बेकार हो गयी। यहाँ कोई नहीं है जो हमारी मदद करे। हम इस साल भूखे मारेगें।

But in the ……………………………………………………………. to God.
लेकिन उनके सब के मन में जो उस घाटी के मध्य के घर में रहते, में एक आशा थी; भगवान् से मदद मिलने की।
लेंचो कहता है – उदास मत हो, तुम्हे लग रहा होगा की बहुत ज्यादा नुकसान हो गया, एक बात याद रखो कोई भी भूख से नहीं मरता है।
“तभी सभी घर वालों ने कहा; कोई भूख से नहीं मरता है।”
पूरी रात लेंचो सोया नहीं ओर सोचता रहा उसकी एक आशा के बारे में कि भगवान् से मदद कैसे मांगे। जैसा कि उसे ज्ञात था भगवन कि आँखें सब देख रही है कि किसी के अंतरात्मा में क्या चल रहा है। लेंचो एक बैल रुपी आदमी था, जो जानवरों कि तरह खेतों में काम करता था। लेकिन फिर भी वो जानता था कि वो (पत्र) कैसे लिखे। रविवार आया, दोपहर को उसने पत्र लिखना शुरु किया। उस पत्र को खुद शहर ले गया ओर उसे डाक कर देता। ये पत्र भगवान के नाम के अलावा और कुछ नहीं था।

ncert class 10 english chapter 1 hindi translate a letter to god.
NCERT Solutions For Class 10 English First Flight Chapter 1 A Letter to God Questions-Answers

“God,” he ……………………………………………………………. with God!”
उसने लिखा “भगवान” यदि आपने मेरी सहायता नहीं कि तो इस साल मैं और मेरा परिवार भूखे ही रह जायेगें। मुझे एक सौ पेसो कि जरुरत है ताकि मैं फिर से अपने खेतों को बो सकूँ और जब तक फसल ना हो जी सकूँ, क्योंकि ओले …
उसने लिफाफे के ऊपर लिखा – “भगवान के लिए” और पत्र को उसके अंदर डाल दिया, और अब भी वह परेशान है, शहर गया। डाकघर में, उसने स्टाम्प को पत्र के ऊपर चिपकाया और फिर उसे डाक डिब्बे में दाल दिया।
एक कर्मचारी, जो कि डाकिया था और डाकघर के कार्य में भी सहायता करता था वह अपने मालिक के पास गया बहुत ठहाके मार कर वो हँस रहा था और उसने भगवान के नाम के पत्र को दिखाया। उसके डाकिया के जीवन में कभी भी ऐसा पता नहीं जाना था। पोस्टमास्टर एक मोटा, दयालु व्यक्ति था – वो भी हँसने लगा, लेकिन लगभग जल्द ही वह गंभीर हो गया और उसने अपनी मेज़ पर उस पत्र को पटक दिया और कहा “क्या विश्वास है!” मेरी इच्छा है कि मेरे पास भी ऐसा विश्वास होता, जिस आदमी ने इस पत्र को लिखा है। भगवान के साथ पत्र व्यवहार शुरु किया है।

So, in ……………………………………………………………. signature: God.
इसलिए उस पत्र वाले का भगवान पर से विश्वास न टूटे, पोस्टमास्टर के मन में एक उपाय आया: उस पत्र का उत्तर देना। लेकिन जब उसने उसे खोला, एक बात साफ़ हो गई थी कि उसे उत्तर देने के लिए उसे मंगल-कामना, स्याही और कागज से ज्यादा कुछ और भी चाहिए था। फिर भी उसने थान लिया की वह इस पत्र का जवाब तो देगा ही, उसने पैसो के लिए अपने कर्मचारी से पूछा, उसने खुद ने भी अपने वेतन का भाग दिया और उसके दोस्त बहुत ज्यादा खुश हो गए कुछ दान-पुण्य देने के नाम पर।
पोस्टमास्टर के लिए यह असंभव था कि वह पुरे 100 पेसोस इकठ्ठा कर ले इसलिए उसने उस किसान को आधे से ज्यादा पैसे दे दिए। उसने लिफाफे में उस पैसों को रखा उस पर लेंचो का नाम पता लिखा और उस पत्र में पैसों के अलावा कुछ भी नहीं लिखा था केवल एक हस्ताक्षर: भगवान।

The following ……………………………………………………………. requested.
अगले रविवार को लेंचो और दिनों के अपेक्षा जल्दी आ गया था यह पूछने के लिए की उसके नाम का कोई पत्र आया है। यह पोस्टमैन खुद था जिसने उसे पत्र थमा दिया जबकि पोस्ट्मास्टर एक संतुष्टि का भाव महसूस कर रहा था जिसने यह अच्छा कार्य किया। वह अपने ऑफिस से ही लेंचो को देख रहा था। लेंचो को बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं हुआ जब उसने पैसों को देखा – उसके विश्वास की बदौलत – लेकिन वह नाराज हुआ जब उसने पैसों को गिना। भगवान् कभी गलती नहीं कर सकते, ना ही भगवान् ने उसे पैसे देने को मना किया है जो उसने माँगा था।

ncert class 10 english chapter 1 hindi translate a letter to god.
NCERT Solutions For Class 10 English First Flight Chapter 1 A Letter to God Questions-Answers

Immediately ……………………………………………………………. Lencho.”
अचानक, लेंचो खिड़की की ओर गया कागज ओर स्याही मांगने के लिए। जनता के लिए लगाई गई मेज पर उसने लिखना शुरु किया, वह अपनी भोहों को बार बार सिकुड़ता उसे आपने जज्बात को लिखने के लिए सोचना पड़ता था यह इसी वजह से था। जब उसने पत्र लिख लिया तो वह खिड़की की ओर गया और एक डाक टिकिट ख़रीदा उसे पत्र पर रख दिया और फिर लिफाफे पर अपने मुक्के से चिपका दिया। जैसे ही वो पत्र डाक में डाला जाता है वो पोस्ट मास्टर उसे खोलने के लिए जाता है। उसमें लिखा था “भगवान : जितना पैसा मैंने माँगा था, उसमें से केवल 70 पेसोस ही मेरे पास पहुंचा। मुझे बाकि के भेजो, क्योंकि इन पैसो की मुझे बहुत ज्यादा जरुरत है। लेकिन डाक से इन्हें मत भेजना। क्योंकि डाक विभाग के कर्मचारी बहुत ही बदमाश है। लेंचो।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!