NCERT Solutions for Class 8 Math Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals | कक्षा 8 गणित अध्याय 3 चतुर्भुजों को समझना class 8th maths

NCERT Solutions for Class 8 Math Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals class 8th maths चतुर्भुजों को समझना. Here We learn what is in ncert class 8 maths solutions Chapter 3 चतुर्भुजों को समझना and solved questions with easiest method. एनसीइआरटी कक्षा 8 गणित अध्याय 3 चतुर्भुजों को समझना के सभी प्रश्न उत्तर सवालों के जवाब सम्मिलित है। In this chapter we solve the question of ncert class 8 maths Chapter 3 exercise 8.1 class 8 maths, class 8 maths Chapter 3 exercise 3.1,  class 8 maths Chapter 3 exercise 3.2, class 8 maths Chapter 3 ex 3.3 class 8 and class 8 maths Chapter 3 exercise 3. class 8th maths
NCERT Solutions for Class 8 Math Chapter 3 चतुर्भुजों को समझना (Chaturbhujon ko Samajhna) are part of ncert solutions for class 8 maths PDF . Here we have given NCERT Solutions for Class 8 Ganit prashnawali 3 Chaturbhujon ko Samajhna, ncert solutions for class 8 maths. Ncert solutions for class 8 Chapter 3 maths Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals with formula and solution.

Here we solve ncert class 8th maths solutions Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals चतुर्भुजों को समझना concepts all questions with easy method with expert solutions. It help students in their study, home work and preparing for exam. Soon we provide NCERT class 8 Maths Chapter 3 Chaturbhujon ko Samajhna question and answers. Soon we provided ncert solutions for ncert class 8 maths Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals चतुर्भुजों को समझना in free PDF here. ncert class 8 maths solutions pdf will be provide soon. ch8 maths class 8 NCERT Solution an book PDF.

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 8 MATHS CHAPTER 3
Understanding of Quadrilaterals
class 8th maths

कक्षा – 8
विषय – गणित
अध्याय – 3
चतुर्भुजों को समझना

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 8 MATHS CHAPTER 3
Understanding of Quadrilaterals
class 8th maths Ex 3.1
प्रश्नावली 3.1

 

1. यहाँ पर कुछ आकृतियाँ दी गई हैं :


प्रत्येक वर्गीकरण निम्नलिखित आधार पर कीजिए :

(a) साधारण वक्र

(b) साधारण बंद वक्र

(c) बहुभुज

(d) उत्तल बहुभुज

(e) अवतल बहुभुज

 

हल : (a) साधारण वक्र – 1, 2, 5, 7
(b) साधारण बंद वक्र – 1, 2, 5, 6, 7
(c) बहुभुज – 1, 2
(d) उत्तल बहुभुज – 2 
(e) अवतल बहुभुज – 1, 4
 
2. निम्नलिखित प्रत्येक में कितने विकर्ण हैं ?
(a) एक उत्तल चतुर्भुज            (b) एक समषडभुज            (c) एक त्रिभुज
हल : (a) एक उत्तल चतुर्भुज – 2
(b) एक समषडभुज – 9
(c) एक त्रिभुज – 0
 
3. उत्तल चतुर्भुज के कोणों के मापों  योगफल क्या हैं ? यदि चतुर्भुज, उत्तल न हो तो क्या यह गुण लागू होगा ? (एक चतुर्भुज बनाइए उत्तल न हो और प्रयास कीजिए।) 
हल : उत्तल चतुर्भुज के कोणों के मापों का योगफल 360° होगा। 
यदि चतुर्भुज उत्तल न हो तो भी कोणों के मापों का योगफल 360° ही होगा। 
253
उपरोक्त चतुर्भुज उत्तल नहीं है। इस चतुर्भुज को दो त्रिभुज में बाँटा गया है। प्रत्येक त्रिभुज का मान 180° होगा। अतः इस चतुर्भुज के कोणों का योगफल भी 360° होगा। 
 
4. तालिका की जाँच कीजिए : (प्रत्येक आकृति को त्रिभुजों में बाँटिए और कोणों का योगफल ज्ञात कीजिए)
 
आकृति

595
566
7897
भुजा 3 4 5 6
कोणों का योगफल 180° 2 × 180°= (4 – 2) × 180° 3 × 180°= (5 – 2) × 180° 4 × 180°= (6 – 2) × 180°
 
एक बहुभुज के कोणों के योग के बारे में आप क्या कह सकते है जिसकी भुजाओं की संख्या निम्नलिखित हो ?
(a) 7                (b) 8                (c) 10                (d) 𝑛
हल :
(a) भुजाओं की संख्या (𝑛) = 7
किसी बहुभुज के सभी अन्तः कोणों का योगफल निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात कर सकते है = (𝑛 – 2) × 180°
अतः 𝑛 = 7 रखने पर –
= (7 – 2) × 180
= 5 × 180
= 900°
(b) भुजाओं की संख्या (𝑛) = 8
बहुभुज के सभी अन्तः कोणों का योगफल = (𝑛 – 2) × 180°
अतः 𝑛 = 8 रखने पर –
= (8 – 2) × 180
= 6 × 180
= 1080°
 
(c) भुजाओं की संख्या (𝑛) = 10
बहुभुज के सभी अन्तः कोणों का योगफल = (𝑛 – 2) × 180°
अतः 𝑛 = 10 रखने पर –
= (10 – 2) × 180
= 8 × 180
= 1440°
 
(d) भुजाओं की संख्या (𝑛) = 𝑛
बहुभुज के सभी अन्तः कोणों का योगफल = (𝑛 – 2) × 180°
अतः 𝑛 = 𝑛 रखने पर –
= (𝑛 – 2) × 180
 
5. सम बहुभुज क्या है ? सम बहुभुज किसे कहते है ?
एक सम बहुभुज का नाम बताइए जिसमें 
(i) 3 भुजाएँ                (ii) 4 भुजाएँ                (iii) 6 भुजाएँ हों। 
हल : सम बहुभुज – ऐसा बहुभुज जिसकी सभी भुजाएँ एवं आंतरिक कोण का मान बराबर हो सम बहुभुज कहलाता है। 
(i) 3 भुजाएँ – ऐसा बहुभुज जिसकी तीनों भुजाएँ बराबर हो त्रिभुज (समबाहु) कहलाता है। 
(ii) 4 भुजाएँ – ऐसा बहुभुज जिसकी चारों भुजाएँ बराबर हो चतुर्भुज (आयत) कहलाता है। 
(iii) 6 भुजाएँ – ऐसा बहुभुज जिसकी छः भुजाएँ बराबर हो सम षटभुज कहलाता है।
 
6. निम्नलिखित आकृतियों में 𝑥 (कोण की माप) ज्ञात कीजिये :
(a) 

544
हल : ∵ चतुर्भुज के चारों कोणों  योग = 360°
अतः 50° + 130° + 120° + 𝑥 = 360°
300° + 𝑥 = 360°
𝑥 = 360° – 300°
𝑥 = 60°
 
(b) 

5846
ल :  𝑦 + 𝑧 = 180° (रैखिक कोण युग्म)
90° + 𝑧 = 180°
𝑧 = 180° – 90°
𝑧 = 90°
∵ चतुर्भुज के चारों कोणों का योग = 360° 
70° + 60° + 90° + 𝑥 = 360°
220° + 𝑥 = 360°
𝑥 = 360° – 220°
𝑥 = 140°
 
(c) 

 
हल : 70° + 𝑦 = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑦 = 180° – 70°
𝑦 = 110°
60° + 𝑧 = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑧 = 180° – 60°
𝑧 = 120°
∵ पंचभुज के सभी अन्तः कोणों का योग = (𝑛 – 2) × 180°
𝑛 = 5
= (5 – 2) × 180°
= 3 × 180°
= 540°
अतः 110° + 120° + 𝑥 + 𝑥 + 30° = 540°
260° + 2𝑥 = 540°
2𝑥 = 540° – 260°
2𝑥 = 280°
𝑥 = 280° ÷ 2
𝑥 = 140°
 
(d) 

8457
हल : ∵ पंचभुज के पाँचों कोणों का योग = 540° 
अतः 𝑥 + 𝑥 + 𝑥 + 𝑥 + 𝑥 = 540°
5𝑥 = 540°
𝑥 = 540° ÷ 5
𝑥 = 108°
 
7. (a)

333
𝑥 + 𝑦 + 𝑧 ज्ञात कीजिए। 
हल: 𝑧 + 30° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑧 = 180° – 30°
𝑧 = 150°
𝑥 + 90° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑥 = 180° – 90°
𝑥 = 90°
त्रिभुज के तीनों बाह्य कोणों का योगफल = 360°
अतः 150° + 90° + 𝑦 = 360°
240° + 𝑦 = 360°
𝑦 = 360° – 240°
𝑦 = 120°
अतः 𝑥 + 𝑦 + 𝑧 = 360°
 
(b) 𝑥 + 𝑦 + 𝑧 + 𝑤 ज्ञात कीजिए। 

785
हल : 𝑥 + 120° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑥 = 180° – 120°
𝑥 = 60°
𝑦 + 80° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑦 = 180° – 80°
𝑦 = 100°
𝑧 + 60° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
𝑧 = 180° – 60°
𝑧 = 120°
∵ चतुर्भुज के चारों कोणों  योग = 360°
𝑥 + 𝑦 + 𝑧 + 𝑤 = 360°
60° + 100° + 120° + 𝑤 = 360°
280° + 𝑤 = 360°
𝑤 = 360° – 280°
𝑤 = 80°
अतः 𝑥 + 𝑦 + 𝑧 + 𝑤 = 360°
 
 

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 8 MATHS CHAPTER 3
Understanding of Quadrilaterals
class 8th maths Ex 3.2
प्रश्नावली 3.2

 
1. निम्नलिखित आकृतियों में 𝑥 का मान ज्ञात कीजिए :
8745
हल : ∵ किसी भी बहुभुज के बाह्य कोणों का योग = 360°
अतः 125° + 125° + 𝑥 = 360°
250° + 𝑥 = 360°
𝑥 = 360° – 250°
𝑥 = 110°
 
(b) 

4478
हल : ∵ पंचभुज के बाह्य कोणों का योग = 360°
अतः 70° + 𝑥 + 90° + 60° + 90° = 360°
310° + 𝑥 = 360°
𝑥 = 360° – 310°
𝑥 = 50°
2. एक सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप ज्ञात कीजिए जिसकी 
(i) 9 भुजाएँ                (ii) 15 भुजाएँ हों। 
हल : (i) 9 भुजाएँ
सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
𝑛 = 9
अतः सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{9}\)
= 40°
(ii) 15 भुजाएँ हों। 
हल : सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
𝑛 = 15 
अतः सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{15}\)
= 24°
 
3. एक सम बहुभुज की कितनी भुजाएँ होंगी यदि एक बाह्य कोण का माप 24° हो ?
हल : सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
24 = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
24𝑛 = 360°
𝑛 = \(\displaystyle \frac{{360}}{24}\)
𝑛 = 15
 
4. एक सम बहुभुज की भुजाओं की संख्या ज्ञात कीजिए यदि इसका प्रत्येक अंत: कोण 165° का हो ?
हल : सम बहुभुज का प्रत्येक अन्तः कोण = \(\displaystyle \frac{{\left( {n-2} \right)180}}{n}\)
165𝑛 = (𝑛 – 2) × 180°
165𝑛 = 180𝑛 – 360
165𝑛 – 180𝑛 = – 360
– 15𝑛 = – 360
𝑛 = \(\displaystyle \frac{{360}}{{15}}\)
𝑛 = 24
 
5. (a) क्या ऐसा सम बहुभुज संभव है जिसके प्रत्येक बाह्य कोण का माप 22° हो ?
हल : सम बहुभुज के प्रत्येक बाह्य कोण का माप = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
22 = \(\displaystyle \frac{{360}}{n}\)
22𝑛 = 360
𝑛 = \(\displaystyle \frac{{360}}{22}\)
𝑛 = 16.37
अतः ऐसा बहुभुज संभव नहीं है जिसका प्रत्येक बाह्य कोण 22° हो क्योकि यहाँ मान पूरी तरह विभाजित ने होता है। 
(b) क्या यह किसी सम बहुभुज का अंत:कोण हो सकता है ? क्यों ?
हल : सम बहुभुज का प्रत्येक अन्तः कोण = \(\displaystyle \frac{{\left( {n-2} \right)180}}{n}\)
22𝑛 = (𝑛 – 2) × 180
22𝑛 = 180𝑛 – 360
22𝑛 – 180𝑛 = – 360
– 158𝑛 = – 360
𝑛 = 360 ÷ 158
𝑛 = 2.27
अतः ऐसा बहुभुज संभव नहीं है जिसका प्रत्येक अंत:कोण 22° हो क्योकि यहाँ मान पूरी तरह विभाजित ने होता है।
6. (a) किसी सम बहुभुज में कम से कम कितने अंश अंत:कोण संभव है ? क्यों ?
हल : हम जानते कि सम बहुभुज कम से कम 3 भुजाओं का बनता है। अतः यह समबाहु त्रिभुज होगा, जिसका प्रत्येक कोण 60° का होगा। 
𝑥 + 𝑥 + 𝑥 = 180°
3𝑥 = 180
𝑥 = 180 ÷ 3
𝑥 = 60°
(b) किसी सम बहुभुज में अधिक से अधिक कितने अंश का बाह्य कोण संभव है ?
हल : सबसे कम भुजा वाला बहुभुज त्रिभुज होगा। अतः अधिकतम बाह्य कोण का मान 120° होगा। 
अतः 𝑥 + 𝑥 + 𝑥 = 360°
3𝑥 = 360°
𝑥 = 360 ÷ 3
𝑥 = 120°
 

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 8 MATHS CHAPTER 3
Understanding of Quadrilaterals
class 8th maths Ex 3.3
प्रश्नावली 3.3

1. ABCD एक समान्तर चतुर्भुज है। प्रत्येक कथन को परिभाषा या प्रयोग किये गए गुण द्वारा पूरा कीजिए।
(i) AD = ……………………..      (ii) ∠DCB = …………………….
(iii) OC = ……………………..      (iv) mDAB + mCDA = ……………………
हल : (i) AD = BC (समान्तर चतुर्भुज की सम्मुख भुजाएँ बराबर होती है।)     
(ii) ∠DCB = DAB (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोण बराबर होते है।)
(iii) OC = OA (समान्तर चतुर्भुज के विकर्ण एक दूसरे को समद्विभाजित करते है।)     
(iv) mDAB + mCDA = 180° (आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)

2. निम्न समान्तर चतुर्भुजों में अज्ञात x, y, z के मानों को ज्ञात कीजिए :
C 8 M E 1C 8 M E 3 scaled
हल : (i) समान्तर चतुर्भुज ABCD में –
B = 100°
चूँकि ∠D = ∠B (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
D = ∠B = 100° 
अतः D = y = 100°
A + ∠D = 180° (समान्तर चतुर्भुज में आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)
अतः ∠A + 100° = 180°
A = 180° – 100°
A = z = 80°
A = 80°
चूँकि ∠A = ∠C (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
A = ∠C = 80° 
अतः C = x = 100°

(ii) यह एक समान्तर चतुर्भुज है अतः C 8 M E 2
50° + ∠x = 180° (समान्तर चतुर्भुज में आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)
x = 180° – 50°
x = 130°
50° + ∠y = 180° (समान्तर चतुर्भुज में आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)
y = 180° – 50°
y = 130°
w = 50° (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
w + ∠z = 180° (रैखिक कोण युग्म)
50° + ∠z = 180°
z = 180° – 50°
z = 130°

(iii) ABCD एक सम चतुर्भुज है अतःC 8 M E 3 copy


x = 90° (चूँकि सम चतुर्भुज के विकर्ण एक दूसरे को लम्ब समद्विभाजित करते है।)
ΔBOC में,
y + ∠x + 30° = 180° (त्रिभुज के तीनों कोणों का योग 180° होता है।)
y + 90° + 30° = 180°
y = 180° – 90° – 30°
y = 180° – 120°
y = 60°
y = ∠z (एकान्तर कोणों का मान बराबर होता है।)
अतः ∠y = ∠z = 60°
z = 60°

(iv) समान्तर चतुर्भुज में,
w = ∠y = 80 (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोण बराबर होते है।)
अतः y = 80°
y + ∠x = 180° (समान्तर चतुर्भुज में आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)
80° + ∠x = 180°
x = 180° – 80°
∠x = 100°
y = ∠z (एकान्तर कोणों का मान बराबर होता है।)
y = ∠z = 80°
z = 80°

(v) समान्तर चतुर्भुज में,C 8 M E 3 copy
D = ∠B = 112° (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
B = 112
B + ∠A = 180° (समान्तर चतुर्भुज में आसन्न कोणों का योग 180° होता है।)
112 + ∠A = 180°
A = 180° – 112
A = 68°
w + ∠z = ∠A (चित्र में दिया है।)
40 + ∠z = 68
z = 68 – 40
z = 28°
x = ∠z = 28 (एकान्तर कोणों का मान बराबर होता है।)
x = 28°

3. क्या एक चतुर्भुज ABCD समान्तर चतुर्भुज हो सकता है यदि 
(i) ∠D + ∠B = 180° ?
(ii) ABDC = 8𝑐𝑚, AD = 4𝑐𝑚 और BC = 4.4𝑐𝑚 ?
(iii) ∠A = ∠70 और ∠C = 65 ?
हल : (i) ∠D + ∠B = 180° ?
हाँ,  यह एक समान्तर चतुर्भुज हो सकता है, यदि ∠D = ∠B = 90° हो।

(ii) AB = DC = 8cm, AD = 4cm और BC = 4.4cm ?
नहीं, यह समान्तर चतुर्भुज हो ही नहीं सकता है।

(iii) ∠A = 70° और ∠C = 65° ?
नहीं, यह समान्तर चतुर्भज नहीं हो सकता है।

4. एक चतुर्भुज की कच्ची आकृति खींचिए जो समान्तर चतुर्भुज न हो परन्तु जिसके दो सम्मुख कोणों के माप बराबर हो।
हल : पतंग 

5. किसी समान्तर चतुर्भुज के दो आसन्न कोणों का अनुपात 3 : 2 है. समान्तर चतुर्भुज के सभी कोणों की माप ज्ञात कीजिए।
हल : हम जानते है की समान्तर चतुर्भुज के आसन्न कोणों का योग 180° होता है।
दोनों आसन्न कोणों का अनुपात = 3 : 2
मानाकि पहला आसन्न कोण = 3x
तथा दूसरा कोण = 2x
अतः 3x + 2x = 180°
5x = 180°
x = \(\displaystyle \frac{{150}}{5}\)
x = 36
अतः पहला आसन्न कोण = 3x = 3 × 36 = 108°
इसके सम्मुख वाला आसन्न कोण भी = 108°
तीसरा आसन्न कोण = 2x × 36 = 72°
इसके सम्मुख आसन्न कोण = 72°

6. किसी समान्तर चतुर्भुज के दो आसन्न कोणों के माप बराबर हैं। समान्तर चतुर्भुज के सभी कोणों की माप ज्ञात कीजिए।
हल : मानाकि समान्तर चतुर्भुज के आसन्न कोण AB है तथा दोनों के मान समान है।
तब ∠A = ∠B = 90° (समान्तर चतुर्भुज के आसन्न कोणों का योग 180° होता है।) 
B के सम्मुख कोण ∠C का मान भी 90° होगा तथा ∠C के आसन्न कोका मान = 90° होगा।
अतः चतुर्भुज के चारो कोणों का मान निम्न होगा –
A = 90°, ∠B = 90°, ∠C = 90° तथा ∠D = 90°

7. संलग्न आकृति HOPE एक समान्तर चतुर्भुज है। x, y तथा z कोणों की माप ज्ञात कीजिए। ज्ञात करने में प्रयोग किये गए गुणों को बताइए।
हल : ∠w + 70° = 180° (रैखिक कोण युग्म)
w = 180° – 70°
w = 110°
w = ∠x (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
w = ∠x = 110°
x = 110°
E + ∠H = 180° (समान्तर चतुर्भुज के आसन्न कोणों का योग 180 होता है।)
110° + ∠H = 180°
H = 180° – 110°
H = 70°
40° + ∠z = ∠H (चित्र में दिया गया है।)
z = 70° – 40°
z = 30°
y = 40° (एकान्तर कोण का मान समान होता है।)

8. निम्न आकृतियाँ GUNS और RUNS समान्तर चतुर्भुज हैं। x तथा y ज्ञात कीजिए।
हल : (i) चूँकि समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख भुजाएँ समान होती है।
अतः 3y – 1 = 26
3y = 26 + 1
3y = 27
y = \(\displaystyle \frac{{27}}{3}\)
y = 9
इसी प्रकार,
3x = 18
x = \(\displaystyle \frac{{18}}{3}\)
x = 6

(ii) ∵ समान्तर चतुर्भुज के विकर्ण एक दूसरे को बराबर भागों में समद्विभाजित करते है।
अतः y + 7 = 20
y = 20 – 7
y = 13
तथा x + y = 16
x + 13 = 16
x = 16 – 13
x = 3

9. दी गई आकृति में RISK तथा CLUE दोनों समान्तर चतुर्भुज हैं, x का मान ज्ञात कीजिए।
हल : समान्तर चतुर्भुज RISK में,  
अतः ∠K + ∠S = 180° (समान्तर चतुर्भुज आसन्न कोणों का मान 180° होते है।) 
120° + ∠S = 180°
S = 180° – 120°
S = 60°
इसी प्रकार, समान्तर चतुर्भुज क्लू में, 
L = ∠E  (समान्तर चतुर्भुज के सम्मुख कोणों का मान समान होता है।)
L = ∠E = 70°
अतः ∠E = 70°
अब त्रिभुज EOS में, 
E + ∠S + x = 180° (त्रिभुज के तीनों कोणों का योग 180 होता है।)
70° + 60° + x = 180°
130° + x = 180°
x = 180° – 130°
x = 50°
अतः x का मान 50° होगा।

10. बताइए कैसे यह आकृति एक समलम्ब है। इसकी कौन सी दो भुजाएँ समान्तर है ? (आकृति 3.32)
हल : दी गई आकृति में भुजा MN भुजा KL के समान्तर है, क्योंकि समान्तर भुजाओं पर बनने वाले कोणों के युग्मों का योगफल 180° होता है।
जैसा की आकृति में दिखाया गया है।
M + ∠N = 180°

11. आकृति 3.33 में mC ज्ञात कीजिए यदि \(\displaystyle \overline{{AB}}\parallel \overline{{DC}}\) है।
हल : \(\displaystyle \overline{{AB}}\parallel \overline{{DC}}\) (दिया है)
अतः ∠B + ∠C = 180° (समान्तर चतुर्भुज के आसन्न कोण का मान 180° होता है।)
120° + ∠C = 180°
C = 180° – 120°
C = 60°
अतः mC = 60° है।

12. आकृति 3.34 में ∠P तथा ∠S की माप ज्ञात कीजिए यदि \(\displaystyle \overline{{SP}}\parallel \overline{{RQ}}\) है। (यदि आप mR, ज्ञात करते है, तो क्या mP को ज्ञात करने की एक से अधिक विधि है ?)
हल : चूँकि समान्तर रेखाओं पर बनने वाले अंत: कोणों का मान 180° होता है।
अतः ∠P + ∠Q = 180°
P + 130° = 180°
P = 180° – 130°
P = 50°
इसी प्रकार,
S + ∠R = 180°
S + 90° = 180°
S = 180° – 90°
S = 90°
इसी प्रकार हम दूसरी विधि से भी ज्ञात कर सकते है।
चतुर्भुज के चारो कोणों का योग = 360°
अतः ∠P + ∠Q + ∠R + ∠S = 360°
P + 130° + 90° + 90° = 360°
P = 360° – 310°
P = 50°

NCERT SOLUTIONS FOR CLASS 8 MATHS CHAPTER 3
Understanding of Quadrilaterals
class 8th maths Ex 3.4
प्रश्नावली 3.4

1. बताइए, कथन सत्य है या असत्य :

(a) सभी आयत वर्ग होते हैं  (e) सभी पतंगे सम चतुर्भुज होती है
(b) सभी सम चतुर्भुज समांतर चतुर्भुज होते हैं (f) सभी सम चतुर्भुज पतंग होते हैं
(c) सभी वर्ग सम चतुर्भुज और आयत भी होते हैं (g) सभी समांतर चतुर्भुज समलंब होते हैं
(d) सभी वर्ग समांतर चतुर्भुज नहीं होते। (h) सभी वर्ग समलंब होते हैं।

हल :
(a) सभी आयत वर्ग होते हैं 
असत्य 

(b) सभी सम चतुर्भुज समांतर चतुर्भुज होते हैं
सत्य

(c) सभी वर्ग सम चतुर्भुज और आयत भी होते हैं
सत्य

(d) सभी वर्ग समांतर चतुर्भुज नहीं होते।
असत्य

(e) सभी पतंगे सम चतुर्भुज होती है
असत्य

(f) सभी सम चतुर्भुज पतंग होते हैं
सत्य

(g) सभी समांतर चतुर्भुज समलंब होते हैं
सत्य

(h) सभी वर्ग समलंब होते हैं।
सत्य

2. उन सभी चतुर्भुजों की पहचान कीजिए जिनमें

(a) चारों भुजाएँ बराबर लम्बाई की हों (b) चार समकोण हों

हल :
(a) चारों भुजाएँ बराबर लम्बाई की हों
समचतुर्भुज एवं वर्ग

(b) चार समकोण हों
आयत एवं वर्ग

3. बताइए कैसे एक वर्ग 

(i) एक चतुर्भुज (ii) एक समांतर चतुर्भुज
(iii) एक समचतुर्भुज (iv) एक आयत है।

हल : 
(i) एक चतुर्भुज
एक वर्ग एक चतुर्भुज है क्योंकि इसमें चार भुजाएँ होती है।

(ii) एक समांतर चतुर्भुज
एक वर्ग एक समांतर चतुर्भुज है क्योंकि एक वर्ग की सम्मुख भुजाएँ समांतर होती है।

(iii) एक समचतुर्भुज
एक वर्ग एक समचतुर्भुज है क्योंकि एक वर्ग की सभी चारों भुजाएँ बराबर होती है।

(iv) एक आयत है।
एक वर्ग एक आयत है क्योंकि एक वर्ग का प्रत्येक कोण समकोण होता है।

4. एक चतुर्भुज का नाम बताइए जिसके विकर्ण 

(i) एक दूसरे को समद्विभाजित करते हैं (ii) एक दूसरे पर लंब समद्विभाजक हो
(iii) बराबर हों।  

हल :
(i) एक दूसरे को समद्विभाजित करते हैं
समांतर चतुर्भुज
समचतुर्भुज
वर्ग
आयत

(ii) एक दूसरे पर लंब समद्विभाजक हो
समचतुर्भुज
वर्ग

(iii) बराबर हों।
वर्ग
आयत

5. बताइए एक आयत उत्तल चतुर्भुज कैसे है।
हल : एक आयत उत्तल चतुर्भुज है क्योंकि इसके दोनों विकर्ण इसके अभ्यन्तर में स्थित होते हैं।

6. ABC एक समकोण त्रिभुज है और ‘O’ समकोण की सम्मुख भुजा का मध्य बिंदु है। बताइए कैसे ‘O’ बिंदु A, B तथा C से समान दूरी पर स्थित है। (बिंदुओं से चिह्नित अतिरिक्त भुजाएँ आपकी सहायता के लिए खींची गई हैं)  
NCERT Solutions for Class 8 Math Chapter 3 Understanding of Quadrilaterals | कक्षा 8 गणित अध्याय 3 चतुर्भुजों को समझना

हल :
\(\displaystyle \overline{{AD}}\parallel \overline{{BC}}\)\(\displaystyle \overline{{AB}}\parallel \overline{{DC}}\)इसलिए, समांतर चतुर्भुज ABCD में, विकर्ण \(\displaystyle \overline{{AC}}\) का मध्य- बिंदु O है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!