NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan | एनसीईआरटी कक्षा 6 हिंदी वसंत पाठ 2 बचपन के अभ्यास प्रश्न ncert class 6 hindi

NCERT solutions for class 6 Hindi chapter 2 Bachapan free Hindi question answer given in this section ncert class 6 hindi . Hindi class 6 chapter 2 Bachapan. एनसीईआरटी कक्षा 6 हिंदी वसंत पाठ 2 बचपन के अभ्यास प्रश्न। Class 6 Hindi vasant chapter 2 question answer available free in eteacherg.com। Here We learn what is in this lesson in class 6 hindi ncert solutions in hindi Bachapan and solve questions एनसीइआरटी class 6 Hindi chapter 2 question answer.

Ncert solutions for class 6 Hindi vasant chapter 2 Bachapan is a part NCERT class 6 hindi vasant are part of class 6 hindi Basant chapter 2 Hindi question and answer. Here we have given ncert solutions for class 6 hindi kshitij chapter 2 prashan uttr Bachapan. These solutions consist of answers to all the important questions in NCERT book chapter 2. एनसीईआरटी कक्षा 6 हिंदी वसंत पाठ 2 बचपन के अभ्यास प्रश्न ncert class 6 hindi। NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan
Here we solve NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan Questions and Answers concepts all questions with easy method with expert solutions. It help students in their study, home work and preparing for exam. Soon we provide class Hindi 6 ncert solutions Hindi vasant chapter 2 Prashan-Uttr. is provided here according to the latest NCERT (CBSE) guidelines. Students can easily access the hindi translation which include important Chapters and deep explanations provided by our expert. Get CBSE in free PDF here. ncert solutions for ncert solutions for class 6 hindi vasant chapter 2 pdf also available Click Here or you can download official NCERT website. You can also See NCERT Solutions for Hindi class 6 book pdf with answers all Chapter to Click here. NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan ncert class 6 hindi

एनसीईआरटी कक्षा 6 हिंदी वसंत पाठ 2 बचपन के अभ्यास प्रश्न

Ncert Solutions for class 6 Hindi chapter 2 Bachapan Questions and Answers
hindi class 6 chapter 2 एनसीईआरटी कक्षा 6 हिंदी वसंत पाठ 2 बचपन के अभ्यास प्रश्न

संस्मरण से

1. लेखिका बचपन में इतवार की सुबह क्या-क्या काम करती थी?
उत्तर – लेखिका बचपन में इतवार की सुबह अपने मोज़े खुद धोती थी। यह काम किसी नौकरानी या नौकर को नहीं दिया जाता था। धो लेने के बाद अपने-अपने जूते पॉलिश करके चमकाते थे। 

2. ‘तुम्हें बताऊँगी कि हमारे समय और तुम्हारे समय में कितनी दूरी हो चुकी है।’ – इस बात के लिए लेखिका क्या-क्या उदाहरण देती है?
उत्तर – ‘तुम्हें बताऊँगी कि हमारे समय और तुम्हारे समय में कितनी दूरी हो चुकी है।’ इस बात के लिए लेखिका कहती है कि उन दिनों कुछ घरों में हो ग्रामोफ़ोन थे, रेडियो और टेलीविजन नहीं थे। बचपन में जिसे हम कुल्फ़ी कहते थे वो अब आइसक्रीम हो गई है। कचौड़ी-समोसा, पैटीज़ में बदल गए हैं। शहतूत और फ़ाल्से और खसखस के शरबत कोक-पेप्सी में बदल गए। उन दिनों में कोक की जगह लेमनेड, विमटो मिलती थी।

3. पाठ से पता करके लिखो कि लेखिका को चश्मा क्यों लगाना पड़ा? चश्मा लगाने पर उनके चचेरे भाई उन्हें क्या कहकर चिढ़ाते थे?
उत्तर – लिखिका की आँखें रात के समय टेबल लैंप के सामने काम करने से कमजोर हो गयी थी इसलिए उन्हें चश्मा लगाना पड़ा। चश्मा लगाने पर उनके चचेरे भाई उन्हें “सूरत बनी लंगूर की” कहकर चिढ़ाते थे।

4. लेखिका अपने बचपन में कौन-कौन-सी चीज़ें मज़ा ले-लेकर खाती थीं? उनमें से प्रमुख फलों के नाम लिखो?
उत्तर – लेखिका अपने बचपन में चॉकलेट, पेस्ट्री, चना गरम, अनार दाना चूर्ण, पपड़ी और भूने हुए चेस्टनट को मज़े लेकर खाया करती थी।
इनमे से कुछ प्रमुख फल : रसभरी कसमल, खट्टे-मीठे काफ़ल और शहतूत और फ़ाल्से और खसखस का शरबत पीती थी।

संस्मरण से आगे

1. लेखिका के बचपन में हवाई जहाज़ की आवाज़ें, घुड़सवारी, ग्रामोफ़ोन और शोरूम में शिमला-कालका ट्रेन का मॉडल ही आश्चर्यजनक आधुनिक चीज़ें थीं। आज क्या-क्या आश्चर्यजनक आधुनिक चीज़ें तुम्हें आकर्षित करती हैं? उनके नाम लिखो।
उत्तर – आज का समय अत्याधुनिक हो गया है। आज सुपर सोनिक प्लेन, मल्टीमीडिया स्मार्ट फ़ोन, अत्याधुनिक मशीने, लेपटॉप्स, बड़ी बड़ी टी वी स्क्रीन, विकसित खिलौने, कंप्यूटर गेम्स आदि चीज़ें हमें आकर्षित करती है।

2. अपने बचपन की कोई मनमोहक घटना याद करके विस्तार से लिखो।
उत्तर – हमारा घर एक पहाड़ी के पास है। ये ज्यादा ऊँची तो नहीं है। एक दिन हम सभी दोस्तों ने इस पर जाने का प्लान बनाया। रविवार का दिन था हम सब तैयार थे। साथ में नाश्ता पेस्ट्री, कोल्डड्रिंक वेपर्स, नमकीन थे। चढाई शुरू हुई। शुरुवात में हम तेजी से ऊपर बढे परन्तु जैसे जैसे ऊंचाई बढ़ती गयी वैसे वैसे हमारी रफ़्तार कम होती गयी। अंततः 30 मिनट में हम पहाड़ी के ऊपर पहुँच गए। वहाँ हमने कुछ देर आराम किया और फिर नाश्ता किया। कुछ दोस्तों ने डांस करना प्रारम्भ कर दिया। एक घंटे हम वहाँ रहे। इस एक घंटे में हमने बहुत आनंद लिया। फिर हम पहाड़ी से नीचे आ गए। किसी पहाड़ी पर चढाने का ये मेरा पहला अनुभव था।

अनुमान और कल्पना

1. सन 1935-40 के लगभग लेखिका का बचपन शिमला में अधिक दिन गुजरा। उन दिनों के शिमला के विषय में जानने का प्रयास करें।
उत्तर – शिमला में वेंगर्स और देविको रेस्तराँ की चॉकलेट और पेस्ट्री मज़ा देने वाली होती थी। वहाँ के खट्टे-मीठे काफ़ल मुँह में पानी लाने वाले थे। सरवर, स्कैंडल पॉइंट के ठीक सामने उन दिनों एक दूकान हुआ करती थी, जिसके शोरूम में शिमला-कालका ट्रेन का मॉडल बना हुआ था। पिछली सदी में तेज़ रफ़्तार वाली गाड़ी वही थी।
उन दिनों शिमला विकसित होने लगा था। वहां रेस्टोरेंट मॉल अच्छी दुकान है आदि खुल गई थी। छोटी-छोटी पहाड़ियों से गिरा शहर चढ़ाई चढ़कर गिरजा मैदान पहुंचना और उतरकर मॉल जाना यह सब घटनाएं सुखद थी। संध्या के समय धुंधलके में गहराते पहाड़ जिस पर बढ़ती रौनक माल की दुकानों की चमक और स्कैंडल प्वाइंट यह सब शिमला की खूबसूरती की झलक दिखाते हैं।

2. लेखिका ने इस संस्मरण में सरवर के माध्यम से अपनी बात बताने की कोशिश की है, लेकिन सरवर का कोई परिचय नहीं दिया है। अनुमान लगाइए कि सरवर कौन हो सकता है?
उत्तर – संस्मरण में बीते समय की घटनाएं ही किसी के साथ बातचीत में शामिल की जाती है। लेखिका ने संस्मरण में सरवर के माध्यम से अपनी बात कही है। सरवर ऐसा बालक या बालिका रही होगी, जिसकी उम्र 9 से 12 साल की रही होगी। वह लेखिका का परिचित भी हो सकता है। सरवर शिमला में न रहकर दिल्ली जैसे महानगर में रहने वाला होगा। जिसने शिमला जैसे स्थान को कभी देखा न हो।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan

भाषा की बात

1. क्रियाओं से भी भाववाचक संज्ञाएं बनती है। जैसे मारना से मार, काटना से काट, हारना से हार, सीखना से सीख, पलटना से पलट, और हड़पना से हड़प, आदि भाववाचक संज्ञा में बनी है। तुम भी इस संस्करण से कुछ क्रियाओं को छाट कर लिखो और उनके भाव वाचक संज्ञा बनाओ।
उत्तर – 

क्रिया भाववाचक संज्ञा
चाल चलन
बदलना बदलाव
गहराना गहराई
गूंजना गूंज
खिंजना खीज
उभार उभारना
दौड़ना दौड़
चढ़ना चढाई

2. चार दिन, कुछ व्यक्ति, एक लीटर दूध आदि शब्दों के प्रयोग पर ध्यान दो तो पता चलेगा कि इसमें चार, कुछ और एक लीटर शब्द से संख्या या परिमाण का आभास होता है, क्योंकि यह संख्यावाचक विशेषण है। इसमें भी चार दिन से निश्चित संख्या का बोध होता है, इसलिए इसको निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं और कुछ व्यक्ति से अनिश्चित संख्या का बोध होने से इसे अनिश्चित संख्या विशेषण कहते हैं। इसी प्रकार एक लीटर दूध से परिमाण का बहुत होता है इसलिए इसे परिमाणवाचक विशेषण कहते हैं।

  • अब तुम नीचे लिखे वाक्यों को पढ़ो और उनके सामने विशेषण के भेदों को लिखो-
  1. मुझे दो दर्जन केले चाहिए।
  2. 2 किलो अनाज दे दो।
  3. कुछ बच्चे आ रहे हैं।
  4. सभी लोग हंस रहे थे।
  5. तुम्हारा नाम बहुत सुंदर है।

उत्तर –

1. मुझे दो दर्जन केले चाहिए।
दो दर्जन – निश्चित संख्यावाचक विशेषण

2. दो किलो अनाज दे दो।
दो किलो – निश्चित परिमाणवाचक विशेषण

3. कुछ बच्चे आ रहे हैं।
कुछ – अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण

4. सभी लोग हंस रहे थे।
सभी – अनिश्चित परिमाणवाचक विशेषण

5. तुम्हारा नाम बहुत सुंदर है।
तुम्हारा – सर्वनामिक विशेषण
बहुत – अनिश्चित परिमाणवाचक विशेषण
सुंदर – गुणवाचक विशेषण

3. कपड़ों में मेरी दिलचस्पियाँ मेरी मौसी जानती थीं।

  • इस वाक्य में रेखांकित शब्द “दिलचस्पियाँ” और “मौसी” संज्ञा की विशेषता बता रहे हैं, इसलिए यह सार्वनामिक विशेषण हैं। सर्वनाम कभी-कभी विशेषण का काम भी करते हैं। पाठ में से ऐसे पाँच उदाहरण छाँटकर लिखो।

उत्तर –
(क) हम बच्चे इतवार की सुबह इसी में लगते
(ख) उन दिनों कुछ घरों में ग्रामोफोन थे।
(ग) हमारा घर माल से ज्यादा दूर नहीं था।
(घ) अपने अपने जूते पोलिश करके चमकाते।
(ड) यह गाना उन दिनों स्कूल में हर बच्चे को आता था।

NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 2 Bachapan

कुछ करने को

1. अगर तुम्हें अपनी पोशाक बनाने को कहा जाए तो कैसे पोशाक बनाओगे और पोशाक बनाते समय किन बातों का ध्यान रखोगे? अपनी कल्पना से पोशाक का डिजाइन बनाओ।
उत्तर – संकेत: छात्र अपनी कल्पना से डिजाइन बनाएं।लड़के कोट पेंट किया कुर्ते पजामे का डिजाइन बना सकते हैं और लड़कियां फ्रॉक यहां सलवार कमीज को डिजाइन बना सकती हैं। यह भी लिखे की पोशाक बनाते समय आप किन बातों का ध्यान रखेंगे और पहनने में सुविधा और आराम का या आधुनिकता और कारीगरी का।

2. तीन तीन के समूह में अपने साथियों के साथ कपड़ों के नमूने इकट्ठा करके कक्षा में बताओ। इन नमूनों को छू कर देखो और अंतर महसूस करो यह भी पता करो कि कौन सा कपड़ा किस मौसम में पहनने के लिए अनुकूल है।
उत्तर – कुछ कपड़े ऊन के बने होंगे तो उन्हें सर्दियों में पहनना।
कुछ कपड़े सूती के होंगे जो गर्मियों में अनुकूल होते हैं। इस तरह आप कपड़ों को छू कर पता कर सकते हैं कि कौन से कपड़े मौसम में पहनने के लिए अनुकूल हैं।

3. हथकरघा और मिल के कपड़े बनाने के तरीके के बारे में पता करो। संभव हो तो किसी कपड़े के कारखाने में जाकर जानकारी प्राप्त करो।
उत्तर – हथकरघा पर हाथ से कपड़े बनाए जाते हैं और मेल में मशीन के द्वारा छात्र किसी कारखाने का भ्रमण कर कर यह जानने का प्रयास करें कि कपड़े बनाने की प्रक्रिया क्या है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!