ncert solutions for class 6 science Chapter 12 electricity and circuit | कक्षा 6 विज्ञान पाठ 12 विद्युत तथा परिपथ अभ्यास प्रश्न

ncert solutions for class 6 science chapter 12 vidyut tatha paripath complete solution with explanation. Here is free ncert class 6 science chapter 12 विद्युत तथा परिपथ। electricity and circuit class 6th science Here We learn what is in this lesson 10 विद्युत तथा परिपथ विज्ञान कक्षा 6 and how to solve questions एनसीइआरटी कक्षा 6 विज्ञान पाठ 12 vidyut tatha paripath के प्रश्न उत्तर सम्मिलित है।

ncert solutions for 6th standard science chapter 12 विद्युत तथा परिपथ NCERT kaksha 6 vigyaan are part of NCERT Solutions ncert class 6 science. Here we have given NCERT Solutions for Class 6 ncert solutions for class 6 science chapter 12 electricity and circuit.

Here we solve ncert class 6 science chapter 12 electricity and circuit विद्युत तथा परिपथ concepts all questions with easy method with expert solutions. It help students in their study, home work and preparing for exam. Soon we provide NCERT solutions for class 6 science chapter 12 vidyut tatha paripath question and answers. NCERT Solutions for class 6th science chapter 12 विद्युत तथा परिपथ electricity and circuitss in free PDF here.

ncert solutions for class 6 science

Ncert solutions for class 6th science

कक्षा – 6
पाठ – 12 chapter 12
विद्युत तथा परिपथ
electricity and circuit

अभ्यास

1. रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए :

(क) एक युक्ति जो परिपथ को तोड़ने के लिए उपयोग की जाती है, _____________________ कहलाती है।
(ख) एक विद्युत-सेल में ____________________ टर्मिनल होते हैं।  
उत्तर – 
(क) एक युक्ति जो परिपथ को तोड़ने के लिए उपयोग की जाती है, विद्युत स्विच कहलाती है।
(ख) एक विद्युत-सेल में दो टर्मिनल होते हैं।  

2. निम्नलिखित कथनों पर ‘सही’ या ‘गलत’ का चिह्न लगाइए।

(क) विद्युत-धारा धातुओं से होकर प्रवाहित हो सकती हैं।
(ख) विद्युत परिपथ बनाने के लिए धातु के तारों के स्थान पर जुट की डोरी प्रयुक्त की जा सकती है।
(ग) विद्युत  धारा थर्माकोल की शीट से होकर प्रवाहित हो सकती हैं।
उत्तर –
(क) विद्युत-धारा धातुओं से होकर प्रवाहित हो सकती हैं। (सही)
(ख) विद्युत परिपथ बनाने के लिए धातु के तारों के स्थान पर जुट की डोरी प्रयुक्त की जा सकती है। (गलत)
(ग) विद्युत  धारा थर्माकोल की शीट से होकर प्रवाहित हो सकती हैं। (गलत)

3. व्याख्या कीजिए कि चित्र 12.13 में दर्शाई गई व्यवस्था में बल्ब क्यों नहीं दीप्तिमान होता है?
NCERT Solutions for class 6 chapter 12 Q3


उत्तर – बल्ब दीप्तिमान नहीं होता है क्योंकि परिपथ में बीच में धातु के तार का एक सिरा एक विद्युत के कुचालक प्लास्टिक से की उपस्थिति के कारण विद्युत परिपथ पूरा नहीं होता।

4. चित्र 12.14 दर्शाए गए आरेख को पूरा कीजिए और बताइए कि बल्ब को दीप्तिमान करने के लिए तारों के स्वतंत्र सिरों को किस प्रकार जोड़ना चाहिए?
NCERT Solutions for class 6 chapter 12 Q4


उत्तर – चित्र में दिए गए परिपथ में तार के एक छोर को सेल के खाली छोर से जोड़ने के बाद तार का दूसरा सिरे को बल्ब से जोड़ते ही विद्युत परिपथ पूरा होगा और बल्ब जल उठेगा।

5. विद्युत स्विच को उपयोग करने का क्या प्रयोजन हैं? कुछ विद्युत-साधित्रों के नाम बताइए जिनमें स्विच उनके अंदर ही निर्मित होते हैं?
उत्तर – स्विच एक ऐसी युक्ति हैं जो विद्युत धारा के प्रवाह को रोकने या प्रारंभ करने के लिए परिपथ को तोड़ता अथवा पूरा करता हैं।
कुछ विद्युत साधित्र जिनके स्विच उनके अदंर ही निर्मित होते हैं – 
माइक्रोवेव, फ्रिज, कुकर, स्वचालित लौह इस्तरी , टोस्टर, पैटी मेकर।

6. प्रश्न 12.14 के चीते में सुरक्षा पिन की जगह यदि रबड़ लगा दें तो क्या बल्ब दीप्तिमान होगा।
उत्तर – नहीं।

7. क्या चित्र 12.15 में दिखाए गए परिपथ में बल्ब दीप्तिमान होगा?
NCERT Solutions for class 6 chapter 12 Q7


उत्तर – हाँ। चित्र 12.15 में दिखाए गए परिपथ में बल्ब दीप्तिमान होगा क्योंकि परिपथ पूर्ण और बंद है। यदि परिपथ में कोई खराबी न हो, बल्ब फ्यूज न हो, सेल डिस्चार्च न हो।

8. किसी वस्तु के साथ “चालक-परिक्षित्र” का उपयोग करके यह देखा गया कि दीप्तिमान होता है। क्या इस वस्तु का पदार्थ विद्युत-चालक है या विद्युत-रोधक? व्याख्या कीजिए।
उत्तर – इस वस्तु का पदार्थ विद्युत चालक है। क्योंकि विद्युत चालक पदार्थ वे होते है जिनमे से होकर विद्युत धारा प्रवाहित होती है तथा विद्युत-रोधक पदार्थ वे होते है जिनमे विद्युत धारा का प्रवाह नहीं होता है। विद्युत-रोधक पदार्थ होने पर बल्ब दीप्तिमान नहीं होता है।

9. आपके घर में स्विच की मरमम्त करने समय विद्युत-मिस्तरी रबड़ के दस्ताने क्यों पहनता हैं? व्याख्या कीजिए।
उत्तर – विद्युत-मिस्तरी रबड़ के दस्ताने विद्युत का झटका लगाने से बचने के लिए पहनता हैं।
रबड़ के दस्ताने विद्युत के कुचालक या विद्युत-रोधक होते हैं। ये विद्युत मिस्तरी को विद्युत के झटके से बचाते हैं। यही कारण हैं कि विद्युत स्विच की मरम्मत के समय विद्युत-मिस्तरी रबड़ के दस्ताने क्यों पहनता हैं।

10. विद्युत मिस्तरी द्वारा उपयोग किए जाने वाले औज़ार, जैसे – पेचकस और प्लायर्स के हत्थों पर प्राय: प्लास्टिक या रबड़ के कारण के आवरण चढ़ें होते है। क्या आप इसका कारण समझा सकते है?
उत्तर – प्लास्टिक और रबड़ दोनों ही विद्युत के कुचालक होते हैं। अत: ये विद्युत के झटकों से बचाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!